Ganesh Chaturthi 2021: गणेश चतुर्थी 2021 में कब है? गणेश चतुर्थी क्यों मनाई जाती है?

Ganesh Chaturthi 2021: हिन्दू धर्म में गणेश स्थापना उत्सव यानि गणेश चतुर्थी को बड़े धूमधाम के साथ मनाया जाता हैं। गणेश चतुर्थी 2021 में कब है? और ये दिन क्यों ख़ास होता हैं। इसके बारे मे हम आज इस लेख के माध्यम से जानेंगे।

Ganesh Chaturthi 2021( गणेश चतुर्थी 2021)

गणेश चतुर्थी क्यों मनाई जाती है

गणेश चतुर्थी उत्सव को भगवान श्री गणेश के जन्मदिन के रूप में मनाया जाता है। पौराणिक मान्यताओं के अनुसार भाद्रपद मास के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि को श्री गणेश जी का जन्म हुआ था। इसलिए गणेश चतुर्थी मनाई जाती हैं। लेकिन भगवान गणेश के जन्म से दो अलग – अलग कहानियां भी जुड़ी हुई है। जानते उनके बारे में

पहली कहानी के अनुसार देवी पार्वती ने अपने शरीर से उतारी गई मैल से बनाया था। जब वो नहाने गई तो गणेश को अपनी रक्षा के लिए बाहर बिठा दिया। शिव भगवान जो पार्वती के पति हैं जब घर लौटे तो अपने पिता से अनजान गणेश ने उन्हें रोकने की कोशिश की जिससे शिव को क्रोध आ गया और उन्होने गणेश का सिर काट दिया।

जलझूलनी एकादशी कब है?

जब देवी पार्वती को इस सब के बारे में पता चला तो वो शिव जी से रूष्ट हो गई जिस पर शिव ने उन्हें गणेश का जीवन वापस लाने का वादा कर उस पर हाथी का सिर लगा दिया और इस तरह फिर से गणेश का जीवनदान मिला। लेकिन कुछ लोगों का कहना है कि देवताओं के अनुरोध करने पर शिव और पार्वती ने गणेश को बनाया था जिससे वो राक्षसों का वध कर सकें और यही कारण है कि उन्हें विघनकर्ता भी कहा जाता है।

गणेश चतुर्थी 2021 में कब है?

भाद्रपद मास के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि को मनाई जाने वाली गणेश चतुर्थी इस वर्ष शुक्रवार 10 सितम्बर 2021 को मनाई जाएगी। इस दिन अनेक स्थानों पर भगवान श्री गणेश की बढ़ी धूमधाम के साथ पुजा अर्चना की जाएगी।

गणेश चतुर्थी महाउत्सव पर अनेक मेलो का आयोजन किया जाता है। जिन में राजस्थान के सवाई माधोपुर जिले का रणथम्भौर का गणेश चतुर्थी का मेला सबसे ज्यादा प्रसिद्ध हैं। वही जयपुर के मोती डूंगरी के गजानन बाबा का मेला लगता है। लेकिन पिछले 2 सालो से covid 19 के कोई भी मेला नहीं लगा है। और इस वर्ष भी ये पाबंदी रह सकती है।

 

Leave a Comment